Bewafa Shayari in Hindi

Bewafa Shayari in Hindi

Whenever we think about expressing our emotions & feelings, at that time, of course, we think about Bewafa Shayari 2021. As we know the Bewafa Shayari in Hindi for a girlfriend is somewhere connected to our heart with our emotions. Sad Shayari is the only way by which we can express everything in our own beautiful way. Expression of love is generally tough for all to express and Download Sad Shayari Image on Pinterest and Two Lines Bewafa Shayari in Hindi for love makes it so simple, fill our emotions into it and your love accepts you with Heart. Not only the expression but pain of a breaking Heart can be beautifully expressed through Heart Touching Sad Shayari in English & Hindi and Easly Share on Facebook.


परिन्दें इतना ऊंचा उड़ गए मैं इन्हे देख नहीं पा रहा,
यह रिश्ते इतना बिखर गए मैं इन्हे समेट नहीं पा रहा |


कुछ तो मजबूरियां मेरी भी रही होगी, जो सफर मैंने अधूरा छोड़ा है |

और तुम तो मेरी पहली मोहब्बत थी, आखिर तुमने तो यार दूसरा छोड़ा है |


जहां मुरादे पूरी ना हो दिल की, वो दर किस काम का
जहां अपने ही ना रहते हो, वो घर किस काम का |


एक तो माशुखा ऊपर से अमीर भी ढूंढ रहे हो
सहाब चूहे दानी में पनीर ढूंढ रहे हो |


आपको इश्क़ भी करना है और तबाई से भी डरते हो
बड़े मासूम हो जनाब कैसी बातें करते हो |


मैं दूर से तोबा कर लुँगा अगर कोई तुम सा मिला कभी
तुम रहम ज़रा सा खा लेना अगर कोई हम सा मिला कभी |


अरे वो लड़की थी या थी गटबंदन की सरकार कोई
वो शाम तलब तक तो मेरी थी और सुबह पलट गयी |


इन आँखों में कभी आग थी
अब जो पानी है सिर्फ तेरी मेहरबानी है |


अपने घर का दरवाज़ा छोटा ही रखना जनाब
जो झुक कर आया समझ लेना वो ही अपना है |


अरे कौन कहता की मोहब्बत बर्बाद करती है
अगर निभाने वाला मिल जाए तो दुनिया याद करती है |


आज हम जिस से बात करते हुए खुद को भूल जाते है ना
एक दिन वो ही शक़्स वक़्त के साथ हमे भुला देता है |


जिस राह की मंज़िल ना हो वो सफर किस बात का
और मंज़िल तक साथ ना दे वो हमसफ़र किस बात का |


हमसे न करिये बातें यूँ बेरुखी से सनम,
होने लगे हो कुछ-कुछ बेवफा से तुम।


बातों में तल्खी और लहजे में बेवफाई,
लो ये मोहब्बत भी पहुँची अंजाम पर।


चाहते हैं वो हर रोज नया चाहने वाला.
ऐ खुदा मुझे रोज इक नई सूरत दे दे।


मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा

जिन्हे दावा था वफा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा


हमारे हर सवाल का सिर्फ एक ही जवाब आया,

पैगाम जो पहूँचा हम तक बेवफा इल्जाम आया।


हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।


तुम समझ लेना बेवफा मुझको, मै तुम्हे मगरूर मान लूँगा

ये वजह अच्छी होगी , एक दूसरे को भूल जाने के लिये


आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार में तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।


पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से एक शख्स ने तबाह किया।


मेरी वफा के बदले बेवफाई न दिया कर,
मेरी उम्मीद ठुकरा के इन्कार न किया कर,
तेरी मोहब्बत में हम सब कुछ गँवा बैठे,
जान भी चली जायेगी इम्तिहान न लिया कर।


मुझे शिकवा नहीं कुछ बेवफ़ाई का तेरी हरगिज़,
गिला तो तब हो अगर तूने किसी से निभाई हो।


तेरी तो फितरत थी सबसे मोहब्बत करने की,
हम बेवजह खुद को खुशनसीब समझने लगे।


वफ़ा निभा के वो हमे कुछ दे ना सके

पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफा हुए


हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया,

औरों को तो ठीक पर हम को भी तबाह किया,

अर्ज़ किया जब ग़ज़लों मे उनकी बेवफ़ाई को तो,

औरों ने तो ठीक उन्होने भी वा वा किया


क्यों जिंदगी इस तरह तुम दूर हो गए
क्या बात है जो इस तरह मगरूर हो गए।
हम तरसते रहे तुम्हारा प्यार पाने को
बेवफा बनकर तुम तो मशहूर हो गए।।


कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी न कह सका।


मुझसे मेरी वफ़ा का सबूत मांग रहा है !

खुद बेवफ़ा हो के मुझसे वफ़ा मांग रहा है !!


तेरे हुस्न पे तारीफों भरी किताब लिख देता,
काश तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती।


जब तक न लगे एक बेवफाई की ठोकर,
हर किसी को अपने महबूब पे नाज़ होता है।


बातों में तल्खी और लहजे में बेवफाई,
लो ये मोहब्बत भी पहुँची अंजाम पर।


वफ़ा के नाम से मेरे सनम अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला,
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे।


काम आ सकीं न अपनी वफायें तो क्या करें,
उस बेवफा को भूल ना जाएं तो क्या करें।

Author: Rahul

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *